Ghazipur live news

जीवन रक्षक है हेलमेट और सीट बेल्ट, युवा समझे इसकी उपयोगिता : प्रिंस अग्रवाल

prince-agrawal1

गाजीपुर। जाको राखे सईया मार सके न कोय, जी हां ये कहावत शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी प्रिंस अग्रवाल पर सटीक बैठती है, जिनका बुधवार के देर शाम भीषड़ कार दुर्घटना हुआ। जिसमे कार के परखच्चे उड़ गए और मलबा पूरी सड़क पर फ़ैल गया पर प्रिंस को एक खरोच तक नहीं आई क्योकि उन्होंने सीट बेल्ट लगाया हुआ था। जिससे कार का एयर बैग खुल गया और डीसीएम से आल्टो कार की आमने सामने की टक्कर के बावजूद प्रिंस अग्रवाल को खरोच तक नहीं आयी। खबर मिलते ही मौके पर शुभचिंतको तथा मित्रो का जमावड़ा लग गया।

गाजीपुर लाइव से विशेष बातचीत में प्रिंस अग्रवाल ने बताया कि पितरों, मित्रो और शुभचिंतको के आशीर्वाद ने नया जीवन दिया है। उन्होंने बताया कि उस काली रात को याद कर सहम जाता हु, अनियंत्रित डीसीएम गलत दिशा में आते हुए मुझे सामने से जोरदार टक्कर मार दी। जोरदार आवाज के साथ मेरे आँखों के सामने कुछ पल के लिए अँधेरा छा गया पर सीट बेल्ट लगे होने के कारण गाड़ी के एयर बैग बाहर आ गए और इतनी भीषण टक्कर के बावजूद मुझे खरोच तक नहीं आई।

प्रिंस अग्रवाल ने सभी वाहन चालकों से निवेदन करते हए कहा कि सभी को यातायात नियमो का पालन करना चाहिए इससे आप अपने साथ साथ दुसरो के जीवन को भी सुरक्षित करते है। वाहन चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट तथा दुपहिया चलाते समय हेलमेट का प्रयोग जरूर करे, क्योकि दुर्घटना बता कर नहीं आती।