आतंकियों से मुठभेड़, जौनपुर के लाल शहीद

आतंकियों से मुठभेड़, जौनपुर के लाल शहीद

कश्मीर के पुलवामा में बुधवार की भोर से चल रहे मुठभेड़ में जौनपुर के जिलाजीत यादव शहीद हो गए हैं। 26 वर्षीय जिलाजीत जौनपुर के धौरहरा इजरी बहादुरपुर पास स्थित सिरकोनी के निवासी थे। परिवार की इकलौती संतान जिलाजीत के शहीद होने की खबर मिलते ही कोहराम मच गया।  बताया जाता है कि पुलवामा में बुधवार की भोर में शुरू हुए मुठभेड़ में एक आतंकी को भी मार गिराया गया है। फिलहाल इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। सुरक्षा बलों को खुफिया एजेंसियों को सूचना मिली थी कि पुलवामा के कमराज़ीपोरा में एक बाग में आतंकी छिपे हैं।  सूचना मिलते ही सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान चलाया। खुद को घिरा देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। इस दौरान जिलाजीत शहीद हो गए। मारे गए एक आतंकी के पास से एक-47, ग्रेनेड के साथ ही अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद हुआ है।  जिलाजीत के पिता कांता प्रसाद यादव का दो वर्ष पहले निधन हो चुका है। घर पर मां उर्मिला और पत्नी पूनम अपने सात माह के बेटे के साथ चाचा राम इकबाल यादव, जवाहर यादव के साथ रहती हैं। जिलाजीत की दो बहनें हैं। जिलाजीत ने सरस्वती निकेतन इंटर कॉलेज बैरीपुर सिरकोनी से इंटर मीडिएट करने के बाद सेना में भर्ती हो गए थे। गुरुवार को पार्थिव शरीर आने की संभावना जताई जा रही है।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *