अरे वाह : यह कैसी वफादारी. मालिक से ही रुपए ऐंठने की साजिश हुआ पर्दाफाश

अरे वाह : यह कैसी वफादारी. मालिक से ही रुपए ऐंठने की साजिश हुआ पर्दाफाश

 गाजीपुर : खानपुर पुलिस व एसओजी टीम ने मिलकर 24 घंटे अंदर दो लाख रुपये की संदिग्ध लूट का पर्दाफाश कर दिया। मालिक का पैसा ऐंठने की नियत से सेल्समैन ने लूट की झूठी कहानी रच डाली। पुलिस दो लाख रुपये भी बरामद लिए। गुरुवार को यह जानकारी पुलिस अधीक्षक डा. ओमप्रकाश सिंह ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए दी। बताया कि वाराणसी के विश्वनाथ फर्म संचालक एल्यूमीनियम के सेल्समैन व वाराणसी बड़ागांव क्षेत्र के सभई निवासी अरिवंद कुमार पटेल दो लाख रुपये वसूल किए। इसके बाद उसकी नियत खराब हो गई। उसने इस रुपये को ऐंठने के उद्देश्य से अपने शातिर दिमाग का प्रयोग करते हुए अपने साथी वाराणसी के शिवपुर थाना क्षेत्र के चनांव गेट निवासी राजेश गुप्ता उर्फ बबलू से मिलकर लूट का प्लान बना दिया। पैसा वसूल करने के बाद एक लाख रुपये अरविद ने अपने साथी राजेश को दे दिया और एक लाख रुपये सड़क के किनारे झाड़ी में छिपा दिया। पुलिस द्वारा की गई कड़ाई से पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म स्वीकार किया। पुलिस ने एक लाख रुपये झाड़ी से व एक लाख राजेश के पास से बरामद कर लिया है। वहीं इनके पास से एक बाइक व दो मोबाइल बरामद किया है। जब पुलिस ने इसके काल डिटेल को खंगाला तो पैसा लेने के बाद सैदपुर से सिधौना के बीच छह-छह बार बात करने की जानकारी मिली। उस नम्बर को ट्रेस किया गया तब अरविद पटेल के मित्र ने एक लाख रुपये लेने की बात स्वीकार की। अरविद ने गाजीपुर-वाराणसी हाइवे जैसी व्यस्त सड़क के किनारे गोपालपुर में एक झाड़ी के पास शौच के बहाने करीब एक फीट गहरा गढ्ढा खोदकर उसमें दबा दिया था। मामले को खोलने वाली टीम में एसओजी प्रभारी श्यामजी यादव, खानपुर थानाध्यक्ष पन्नेलाल, उपनिरीक्षक नागेंद्र उपाध्याय, हेड कांस्टेबल रामभवन, संजय पटेल आदि थे।

 

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *