संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत

संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत

गाजीपुर। खानपुर थाना क्षेत्र के सिंगारपुर गांव निवासी नव-विवाहिता अमृता राजभर की देररात लगभग एक बजे संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। सूचना पर पहुंची खानपुर पुलिस ने जांच पड़ताल कर शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। क्षेत्र के सिंगारपुर निवासी विनोद पुत्र हरिलाल की शादी आज से पांच वर्ष पूर्व 2015 में केराकत थाना क्षेत्र के बॉसबारी गांव निवासी चंद्रभूषण राजभर की सबसे छोटी लड़की अमृता (25) से हुई थी। रिजनों के मुताबिक देररात फोन द्वारा सूचना मिली कि अमृता की फांसी लगाने से मौत हो गयी। बेटी की मौत की सूचना मिलते ही पिता चंद्रभूषण हत्प्रभ रह गये और किसी तरह खुद को संभालते हुए खानपुर क्षेत्र के श्रृंगारपुर पहुंचे। जहां बेटी के शव को देख बेहोश हो गये। सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष खानपुर पन्नेलाल ने शव को कब्जा में लेकर परिजनों की तहरीर पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अमृता अपने तीन भाई और तीन बहनों में सबसे छोटी थी। इसकी शादी खानपुर क्षेत्र के श्रृंगारपुर निवासी विनोद राजभर पुत्र हरिलाल से हुई थी। परिजनों के मुताबिक जब से लॉकडाउन के दौरान पंजाब से लौटे विनोद और अमृता के बीच लगातार झगड़े होते रहते थे। अमृता के ससुराल वाले उसे दहेज के लिए बार-बार प्रताड़ित करते थे। उलहना देते थे। अमृता की मौत के बाद उसके पति पूरे परिवार संग फ़रार हो गये। थानाध्यक्ष खानपुर पन्नेलाल ने बताया कि मामला संदिग्ध हैं और लड़की के परिजनों के तहरीर पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद परिजनों के तहरीर पर उचित कार्रवाई की जायेगी। घटनास्थल से उसके ससुराल के सभी लोग भी फ़रार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *