प्रशासन की सख्ती के आगे भारत बंद रहा असर, कृषि बिल के विरोध में राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सदर एसडीएम को सौंपा

प्रशासन की सख्ती के आगे भारत बंद रहा असर, कृषि बिल के विरोध में राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सदर एसडीएम को सौंपा

गाजीपुर। अखिल भारतीय किसान सभा एवं सपा का भारत को लेकर पूरी ताकत झोंकी गयी। पर प्रशासन की चौकसी के चलते बंदी सफल नहीं हो सकी। बाजार में रोज की तरह दुकानें खुली रहीं। सुरक्षा को लेकर जगह-जगह डटी रही। सिटी रेलवे स्टेशन से लगायत कचरही व सरजू पाण्डेय पार्क तक पुलिस छावनी में तब्दील रहा। वहीं पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सिंह मातहतों संग चक्रमण करते रहे। सपा कार्यकर्ताओं ने कृषि बिल के विरोध में राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सदर एसडीएम को सौंपा। किसान एवं श्रमिक विरोधी विधेयक को वापस लेने की मांग की गयी। उधर, अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति के आह्वान पर किसान संगठन किसान विरोधी कानून पास करने के विरोध में सड़क पर उतरे और प्रदर्शन किया। बंद को जिला कांग्रेस पार्टी सहित अन्य संगठनों ने भी समर्थन दिया था। कुछ जगहों पर बंद सर्मथकों को रोकने पर पुलिस से हल्की नोकझोंक भी हुई। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा, जिला उपाध्यक्ष निजामुद्दीन खां, महामंत्री अशोक बिंद, जिला उपाध्यक्ष कन्हैया लाल विश्वकर्मा, मीडिया प्रभारी अरुण कुमार श्रीवास्तव, पूर्व महासचिव सदानंद यादव, जिला पंचायत सदस्य सत्येंद्र यादव सत्या, अरविंद सिंह यादव, पूर्व सभासद दिनेश यादव, आमिर अली, सदर विधानसभा अध्यक्ष तहसीन अहमद, सदर जंगीपुर विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र यादव, पूर्व जिला पंचायत सदस्य अनिल यादव, जहूराबाद विधानसभा अध्यक्ष जयहिंद यादव, केशव यादव, आत्मा यादव, अतीक अहमद राईनी, यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष विनोद पाल, समाजवादी छात्र सभा जिलाध्यक्ष अमित सिंह लालू, सिकंदर कनौजिया, रविंदर यादव, नगर अध्यक्ष दिनेश यादव, डा. समीर सिंह, गोपाल यादव, राम नगीना यादव, सुखपाल यादव, हरवंश यादव, द्वारिका यादव, अभिनव सिंह, राजकिशोर सिंह, रामाशीष यादव, जगत मोहन बिंद, चौथी यादव, विनोद यादव, आजाद राय, राकेश यादव आदि उपस्थित थे।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *