शिक्षित समाज से ही विकास संभव : पूर्व सासंद जगदीश कुशवाहा

शिक्षित समाज से ही विकास संभव :  पूर्व सासंद जगदीश कुशवाहा

गाजीपुर। आज हमारा समाज कई तरह की चुनौतियों का सामना कर रहा है। सामाजिक, आर्थिक व राजनीतिक तीनों मोर्चों पर हम काफी पीछे हैं। कोई भी समाज तब तक विकास नहीं कर सकता है, जब तक अनुशासित तरीके से संगठित न हो। यह बातें पूर्व सांसद जगदीश सिंह कुशवाहा ने रविवार को तिवारीपुर स्थित कुशवाहा महासभा के कार्यालय में कुशवाहा समाज की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज हमारी पहचान, अस्तित्व व सम्मान के सामने संकट आ गया है। समाज के संगठन व इसके पिछड़ेपन, राजनीतिक भागीदारी प्राप्त करने आदि पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए कहा कि इसको पुनः गौरवशाली स्थिति में स्थापित करने के लिए संगठित होकर संघर्ष करना ही एकमात्र रास्ता है, तभी हम अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। कहा कि डा. भीमराव आंबेडकर के “शिक्षित बनो” और “संगठित बनो” का वाक्य हमें याद करना होगा। न्यायपालिका, पत्रकारिता तथा अन्य संवैधानिक संस्थाओं में हमें जगह बनानी पड़ेगी और यह सिर्फ शिक्षा से ही संभव होगी। समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा ने कहा कि समाज ने जब-जब अंगड़ाई लिया है, देश व प्रदेश में सरकार बनाने व बिगाड़ने का काम किया है। हम बुद्ध, अशोक, महात्मा फुले, शहीद जगदेव प्रसाद के वंशज हैं। जिन्होंने समाज में क्रांतिकारी परिवर्तन करने का काम किया। अपने प्राणों का बलिदान दे दिया, लेकिन कभी भी अन्याय, शोषण व सामंतियों के सामने नहीं झुके। बैठक में तहसील ब्लॉक अध्यक्ष दिनेश कुशवाहा, डॉ. जनक कुशवाहा, अलगू सिंह कुशवाहा, अनिल कुशवाहा, कमलेश कुशवाहा, पप्पु कुशवाहा, कपूरचंद कुशवाहा प्रधान, बलिराम कुशवाहा, महेश आदि ने विचार व्यक्त किया। अध्यक्षता कुशवाहा महासभा के जिलाध्यक्ष रामराज कुशवाहा व संचालन महासचिव जयप्रकाश कुशवाहा ने किया।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *