पुल की सेहत जांचकर भारी वाहनों को हरी झंडी देगा NHI

पुल की सेहत जांचकर भारी वाहनों को हरी झंडी देगा NHI

गाजीपुर : रास्ते उप्र और बिहार को जोड़ने वाले वीर अब्दुल हमीद सेतु की सेहत की पड़ताल शुरू हो गई है। प्रशासन और एनएचएआई की टीम पुल की क्षमता का आकंलन करेगी। पुल को पूरी तरह से जांचने और परखने के बाद भारी वाहनों के संचालन का फैसला लिया जाएगा। पुल पर अभी फिलहाल 20 नवंबर तक हर हाल में भारी वाहनों का संचालन ठप रहेगा। इसके बाद एनएचएआई पुल पर वाहनों इंतजामों को परखकर इन वाहनों के संचालन पर फैसला होगा। डीएम एमपी सिंह ने पुल पर किसी तरह की लापरवाही नहीं बरतने के निर्देश दिए हैं। हालांकि प्रशासन और एनएचएआई की अधिकारियों की मौजूदगी में शनिवार को हाईटगेज लगाने के बाद छोटे वाहनो, बाइक और कार का संचालन पुल से शुरू किया गया था। लगातार स्लैब खिसकने और मरम्मत के चलते कई दिनों से प्रभावित अब्दुल हमीद सेतु पर मरम्मत कार्य पूरा हो गया है। एनएचएआई ने सेतु के दोनों तरफ दस दस फीट के लोहे का हाईटगेज बैरियर लगा दिया गया। हमीद सेतु से भारी वाहनों के आवागमन पर अंकुश लगाने के लिए लगे बैरियर को पुल की सेहत के अनुसार ही छूट दिया जाएगा। बेयरिंग खिसकने के बाद लगातार हमीद सेतु से अब्दुल हमीद पर बड़े वाहनों का संचालन रोक दिया गया था। जनता ने पुल पर प्रदर्शन कर ओवरलोडिंग और पुलिस की मिलीभगत को जिम्मेदार बताया था। इसके बाद डीएम ने जांच के निर्देश भी दिए हैं। जिलाधिकारी एमपी सिंह ने बताया कि एनएचएआई की रिपोर्ट के आधार पर दोबारा पुल की क्षमता का आंकलन किया जाएगा। टीम की रिपोर्ट के आधार पर भारी वाहनों के आवागमन के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। हमीद सेतु पर 20 नवंबर तक भारी वाहनों का संचालन पूरी तहर से बंद रहेगा तब तक प्रतिदिन क्षमता का आंकलन किया जाएगा।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *