निजीकरण के विरोध में विद्युतकर्मियों ने किया धरना प्रदर्शन

निजीकरण के विरोध में विद्युतकर्मियों ने किया धरना प्रदर्शन

गाजीपुर। निजीकरण के विरोध व अन्य प्रमुख मांगों हेतु विरोध सभा व प्रदर्शन सांय 3 बजे से सायं 05 बजे तक लालदरवाजा खण्डीय कार्यालय पर किया गया। जिसमें हम लोगो की मुख्य मांग निजीकरण हेतु जारी किए गए इलेक्ट्रीसिटी (अमेंडमेंट) बिल 2020 और स्टैण्डर्ड बिडिंग डॉक्युमेंट के मसौदे को वापस लिया जाए। संघर्ष समिति के जिला संयोजक निर्भय नारायण सिंह अपनी मांगों को प्रमुखता से रखते हुए कहा कि निजीकरण की समस्त प्रक्रिया निरस्त की जाए और ग्रेटर नोएडा का निजीकरण व आगरा का फ्रेन्चाइजी करार रद्द किया जाए एवं केरल के केएसईबी लिमिटेड की तरह उप्र में भी सभी ऊर्जा निगमों का एकीकरण कर यूपीएसईबी लिमिटेड का गठन किया जाए तथा सभी बिजली कर्मियों के लिए पुरानी पेंशन प्रणाली लागू की जाए। वहीं सह संयोजक शिवम राय व संतोष मौर्य ने बताया कि तेलंगाना की तरह ऊर्जा निगमों में कार्यरत सभी संविदा कर्मियों को नियमित किया जाए और नियमित पदों पर नियमित भर्ती की जाए एवं सभी संवर्गों की वेतन विसंगतियों का निराकरण किया जाए और पूर्व की भाँति सभी संवर्गों को तीन पदोन्नति पद के समयबद्ध वेतनमान दिए जाएं। धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से इंजीनियर आदित्य पांडेय, महेंद्र मिश्रा, आशीष चौहान, मनीष कुमार, शत्रुघ्न यादव, अभिषेक राय, विजय यादव, सत्यनारायण चौरसिया, अविनाश सिंह, रोहित सिंह, तपस कुमार, चित्रसेन प्रसाद, जिला संरक्षक शिवदर्शन सिंह, जिलाध्यक्ष विजयशंकर राय, जिला मंत्री अरविंद कुशवाहा, अजय विश्वकर्मा, पीताम्बर सिंह, अनुराग सिंह, प्रवीण पांडेय, भानु सिंह, एवं गाजीपुर जनपद के समस्त विद्युत अधिकारी, कर्मचारी, संविदा/निविदा, प्राइवेट कर्मचारी, मीटर रीडर व कम्प्यूटर आपरेटर बंधुओं सम्मिलित रहे।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *