मुख्तार अंसारी के करीबी मसूद आलम की बिल्डिंग पर भी प्रशासन की नजर, जांच-पड़ताल तेज

मुख्तार अंसारी के करीबी मसूद आलम की बिल्डिंग पर भी प्रशासन की नजर, जांच-पड़ताल तेज

गाजीपुर। मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी मसूद आलम की नगर के बंशी बाजार स्थित बिल्डिग पर अब प्रशासन की नजर है। वर्षों पहले बिल्डिग के अवैध निर्माण को लेकर जारी की गई नोटिस की दोबारा जांच-पड़ताल तेज कर दी गई है। इनके द्वारा दिए गए नोटिस के जवाब का भी परीक्षण गाजीपुर सहित वाराणसी के मास्टर प्लान की टीम कर रही है। शासन के एंटी माफिया अभियान के तहत मुख्तार अंसारी, उनके रिश्तेदारों व करीबियों के खिलाफ जिला प्रशासन की कार्रवाई महीनों से लगातार चल रही है। हमीद सेतु के पास व गंगा नदी के ठीक किनारे बने शम्म-ए-हुसैनी अस्तपाल, महुआबाग स्थित गजल होटल के अवैध निर्माण और श्रीराम कालोनी में बने गणेशदत्त मिश्रा के चार मंजिला बिल्डिग गिराने के बाद अब उसके करीबी मसूद आलम की बिल्डिग की जांच-पड़ताल की जा रही है। यह बिल्डिग नगर के बंशीबाजार में स्थित है। मास्टर प्लान की अनदेखी करते हुए अवैध निर्माण कराने पर वर्ष 2019 में ही नोटिस जारी की गई थी। इस पर बीते करीब सितम्बर माह में संबंधित द्वारा नोटिस का जवाब भी दे दिया गया है। प्रशासन द्वारा अब इस नोटिस की जांच-पड़ताल फिर से तेज कर दी गई है। जिला प्रशासन के मुताबिक मसूद आलम मुख्तार अंसारी का करीबी है और यह बिल्डिग भी मास्टर प्लान के नियमों की अनदेखी करके बनाया गया है। नोटिस के जवाब की जांच-पड़ताल जिला सहित वाराणसी के मास्टर प्लान की टीम भी कर रही है। इनकी जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि मास्टर प्लान की क्या अनदेखी की गई है। इससे संबंधितों में खलबली मची हुई है।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *