एक्सप्रेस-वे के किनारे बनेंगे छोटे-छोटे औद्योगिक पार्क

एक्सप्रेस-वे के किनारे बनेंगे छोटे-छोटे औद्योगिक पार्क

गाजीपुर।कासिमाबाद  पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे का काम लगभग 95 फीसद पूरा हो चुका है। इस सड़क पर जहां चढ़ने-उतरने की व्यवस्था है, वहां जमीन लेकर छोटे-छोटे औद्योगिक पार्क विकसित किए जाएंगे। जल्द ही प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री इस एक्सप्रेस वे को जनता को समर्पित करेंगे। यह कहना था प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना का। वह शनिवार को अपर मुख्य सचिव गृह व कार्यपालक अधिकारी यूपीडा अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास के साथ कासिमाबाद क्षेत्र के महमूदपुर गांव में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पैकेज-08 के कैंपस में उसके निर्माण कार्यों की समीक्षा करने पहुंचे थे। कासिमाबाद पहुंचने के बाद उन्होंने पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण किया, फिर दोपहर 1:30 से 1:45 बजे तक अधिकारियों संग समीक्षा बैठक की। इसके बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए। बताया कि कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के बहुत से पैकेज का काम निर्धारित समय से पहले पूरा कर लिया गया है। ये पूर्वांचल के लोगों के लिए लाइफ लाइन साबित होगी। इस सड़क के बन जाने से तीन घंटे में व्यक्ति लखनऊ से गाजीपुर पहुंच जाएगा, जबकि पहले आठ घंटे से अधिक का समय लगता है। सतीश महाना ने बताया एक्सप्रेस-वे का काम पूरा हो जाने पर लखनऊ से यहां तक इंडस्ट्रीज को बढ़ावा देने का काम शुरू होगा। इसके लिए लोगों ने संपर्क करना शुरू कर दिया है। एक्सप्रेस-वे के बन जाने से रोजगार के साधन बढ़ेंगे। उन्होंने बताया कि बलिया एक्सप्रेस-वे का काम भी शीघ्र शुरू हो जाएगा। कासिमाबाद तहसील से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर चढ़ने के पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह को इसे बनवाने का निर्देश दिया। कहा कि प्रस्ताव आया तो इसे भी बनवा दिया जाएगा। औद्योगिक विकास मंत्री व मुख्य सचिव का हेलीकाप्टर निर्धारित समय से 25 मिनट पूर्व दोपहर 1:15 बजे कासिमाबाद के धरवारकला गांव के पास पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर बने हेलीपैड पर उतरा। यहां उनकी अगवानी डीएम मंगला प्रसाद, पुलिस अधीक्षक डा. ओमप्रकाश व ओरिएंटल कंपनी के मैनेजर अजित रावत ने की। 1:55 बजे उनका हेलीकाप्टर लखनऊ के लिए उड़ गया। उपजिलाधिकारी मुहम्मदाबाद राजेश गुप्ता, क्षेत्राधिकारी विजय आनंद शाही, तहसीलदार डा. विराग पांडेय, वन क्षेत्राधाकारी अंजनी कुमार सिंह, कोतवाल श्याम जी यादव सहित यूपीडा व जिले के अन्य आला अधिकारी भी थे। एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्यों की समीक्षा के दौरान औद्योगिक विकास मंत्री सहित सभी अधिकारियों ने पौधरोपण कर प्रकृति संरक्षण का संदेश भी दिया। उन्होंने पीपल, बरगद व पाकड़ के पांच पौधे एक्सप्रेस-वे के किनारे लगाए। साथ ही उनकी देखरेख का निर्देश अपने अधीनस्थों को दिया।

adminpurvanchal