सीएम के निर्देश पर नवजात बच्ची का हाल जानने अस्पताल पहुंचे डीएम

सीएम के निर्देश पर नवजात बच्ची का हाल जानने अस्पताल पहुंचे डीएम
– गुल्लू मल्लाह के इस कार्य को सीएम व डीएम ने की सराहना 
– मल्लाह परिवार की खिली बांछें, मुहैया करायी जायेगी सरकारी सुविधाएं 
ग़ाज़ीपुर। शहर के ददरीघाट पर लकड़ी के बक्सा में मिली नवजात बच्ची, जिसकी देखभाल के लिए जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसका हाल जानने के लिए बुधवार को जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह जिला महिला अस्पताल पहुंचे। जहां उन्होंने बच्ची को देखने के बाद उसकी अच्छी देखभाल के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को निर्देश दिया। मीडिया में इस खबर के आ जाने से इसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी संज्ञान में लिया। जहां  मुख्यमंत्री ने बच्ची को गंगा से निकालने वाले शहर के ददरीघाट के रहने वाले गुल्लू मल्लाह की प्रशंसा की है। यही नहीं को बच्ची को जीवनदान देने वाले मल्लाह को आवश्यकतानुसार सारी सरकारी सुविधा देने का निर्देश दिया है। डीएम एमपी सिंह ने बताया कि बच्ची के पालन-पोषण की पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकार उठायेगी और मल्लाह गुल्लू चौधरी के परिजनों को सरकारी सुविधा उपलब्ध कराया जायेगा।  बच्ची को देखने के लिए  जिला महिला अस्पताल भी गये। उन्होंने मल्लाह गुल्लू से भी मुलाकात कर पूरी जानकारी ली और उसके इस कार्य की खूब सराहना की है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर डीएम ने मल्लाह सहित उसके परिवार को हर सुविधा मुहैया कराने का आश्वासन दिया। मालूम हो कि सोमवार को गाजीपुर शहर के ददरीघाट पर गंगा नदी में एक नवजात बच्ची मिली। बच्ची को एक लकड़ी के बक्से में बंद कर गंगा में बहा दिया गया था। बक्सा में देवी-देवताओं की फोटो और बच्ची की कुंडली भी मिली थी, जिससे यह पता चला कि उसका नामकरण गंगा किया गया है और वह 21 दिन की है। बच्ची लाल चुनरी में लपेटी हुई थी। सबसे पहले इस बक्से पर मल्लाह गुल्लू चौधरी की नजर पड़ी थी। जहां वह गंगा से उस बक्से को बाहर निकला और जब उसने बक्सा को खोला, तो उसमें  एक नवजात बच्ची मिली। बच्ची लाल चुनरी में लिपटी हुई थी। गुल्लू बच्ची को मां गंगा का प्रसाद समझकर अपना लिया। पर इसकी जानकारी पुलिस को हो गयी और पुलिस उस बच्ची को मल्लाह से लेकर थाना ले आयी। इसके बाद उस बच्ची को जिला महिला अस्पताल में देखभाल के लिए भर्ती करा दिया गया। जहां बच्ची डाक्टरों की देख-रेख में है और पूरी तरह स्वस्थ है। मुख्यमंत्री के सराहना करने पर गुल्लू मल्लाह काफी प्रसन्न हैं। शासन और प्रशासन को धन्यवाद दे रहे हैं।  साथ ही नवजात बच्ची गंगा को पालने की भी बात कह कर उसे लकी मान रहे हैं, कि आज उसकी वजह से उन्हें डीएम साहब ने नाव और रास्ता देने की बात कही है।
                         

adminpurvanchal