रेवतीपुर से अजिताभ व भांवरकोल से श्रद्धा का निर्विरोध निर्वाचन तय

रेवतीपुर से अजिताभ व भांवरकोल से श्रद्धा का निर्विरोध निर्वाचन तय

गाजीपुर। जिले के रेवतीपुर व भांवरकोल ब्लाक प्रमुख की प्रतिष्ठापरक लड़ाई में दोनों सीटों पर भाजपा प्रत्याशी अजिताभ उर्फ राहुल राय व श्रद्धा राय के निर्विरोध निर्वाचित होना तय है। दोनों सीटों पर विरोध में किसी ने नामांकन नहीं किया।

रेवतीपुर ब्लाक काफी अतिसंवेदनशील

रेवतीपुर ब्लाक शुरू से ही काफी संवेदनशील रहा। व्यवसायी अजिताभ राय पहली बार राजनीति में इंट्री कर रहे हैं और रेवतीपुर वार्ड नंबर 15 से निर्विरोध निर्वाचित होना तय है। इसके बाद से ही पूरे रणनीति के साथ प्रमुख चुनाव में जुट गए। राहुल ने न सिर्फ भाजपा से समर्थन हासिल किया, बल्कि मात्र 30 वर्ष की उम्र में रेवतीपुर के इतिहास में पहली बार निर्विरोध ब्लाक प्रमुख निर्वाचित तय होने से काफी उत्साह है । वर्ष 2005 में ब्लाक प्रमुख के चुनाव में यहां चार-चार हत्याएं हुईं थीं। तभी से रेवतीपुर अतिसंवेदनशील की श्रेणी में रहा। राहुल के शानदार छवि का परिणाम रहा कि उनके निर्विरोध चयन के बाद विरोधी दलों के नेताओं ने न सिर्फ खुशी जाहिर की बल्कि फूल माला से उनका स्वागत भी किया।

अंसारी बंधुओं के गढ़ में श्रद्धा की दावेदारी

भांवरकोल ब्लाक प्रमुख का चुनाव पर पूरे जिले की निगाहें टिकी हुई थीं। यह अंसारी बंधुओं का गढ़ माना जाता है। यहां काफी गहमा-गहमी है। ब्लाक पर नामांकन के दौरान श्रद्धा के पति  आंनद राय पर्चा फाड़ने सहित मारपीट का भी आरोप लगा था। फिर भी यहां से श्रद्धा का निर्वाचन तय है। यहां भाजपा के ही एक वरिष्ठ नेता अपने परिवार की एक सदस्य को प्रमुख बनाना चाहते थे, उनकी सांसद अफजाल अंसारी से वार्ता करते हुए एक आडियो भी वायरल हुआ था। लेकिन भाजपा विधायक अलका राय के भतीजे आंनद राय की रणनीति सबसे कारगर साबित हुई और उनकी पत्नी श्रद्धा का निर्विरोध चयन तय है।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *