कटान से बचाने की कवायद नहीं हुई, तो शेरपुर का अस्तित्व खतरा में

कटान से बचाने की कवायद नहीं हुई, तो शेरपुर का अस्तित्व खतरा में

गाजीपुर। भांवरकोल क्षेत्र में पिछले डेढ़ दशक से गंगा कटान की विभीषिका झेल रहे शेरपुरवासियों ने कटान को लेकर प्रयास में जुटे हुए हैं। इसी कड़ी में शनिवार को प्रयागराज के सर्किट हाउस में केंद्र सरकार के ग्राम विकास मंत्री गिरिराज सिंह, साथ में प्रदेश सरकार के खेलकूद मंत्री उपेन्द्र तिवारी व गाजीपुर के प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला को शेरपुर कटान से संबंधित पत्रक देकर कटान की विनाशलीला से अवगत कराया। मंत्रियों को दिये गये पत्रक में कहा गया है कि यदि कटान रोधी कार्य अविलम्ब शुरू नहीं किया गया, तो यह अमर शहीदों का एतिहासिक गांव शीघ्र ही गंगा की धारा में समाहित हो जाएगा। मंत्री ने एकसाथ शहीदी गांव की मिट्टी को याद करते हुए शेरपुर को बचाने के लिए हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए कहा कि इस पत्रक का स्वरूप कागज से निकलकर जमीनी हकीकत बनेगा। इस शेरपुर गांव को गंगा कटान से बचाने के क्रम में तमाम अनगिनत लोग अपने अपने स्तर से जुटे हुए हैं। पत्रक देने वालों में शेरपुर निवासी शिवम उपाध्याय, प्रमोद राय, डा. प्रशांत कुमार राय आदि उपस्थित रहे।

adminpurvanchal