मरीजों को क्विक रिस्पांस देने पर एंबुलेंस कर्मियों का हुआ सम्मान

मरीजों को क्विक रिस्पांस देने पर एंबुलेंस कर्मियों का हुआ सम्मान

ग़ाज़ीपुर। प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधा को बेहतर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा 102 और 108 एंबुलेंस का संचालन कर लोगों की एक कॉल पर उनके द्वारा बताए गए नियत स्थान पर 15 मिनट में पहुंच कर उन्हें रेस्क्यू करते हुए पास के स्वास्थ्य केंद्र या फिर जिला अस्पताल तक पहुंचाना एंबुलेंस पायलट की जिम्मेदारी में शुमार है। जनपद गाजीपुर में ऐसे बहुत सारे एंबुलेंस पायलट है जिन्होंने कम समय में मरीजों का रेस्क्यू कर उनकी जान बचाई । ऐसे ही कर्मियों को एंबुलेंस के जिला प्रभारी दीपक राय के द्वारा विगत दिनों संतोष कुमार, कन्हैया लाल, उमेश कुमार सम्मानित किया गया। एंबुलेंस के जिला प्रभारी दीपक राय ने बताया कि एंबुलेंस कर्मियों का मुख्य काम किसी भी पीड़ित की तरफ से फोन आने पर क्विक रिस्पांस कर उसमें तैनात की ईएमटी की देखरेख में कम से कम समय में स्वास्थ्य केंद्र या फिर जिला अस्पताल पहुंचाना होता है। और कई ऐसे मरीज भी आते हैं जिन्हें यहां से वाराणसी रेफर किया जाता है और एंबुलेंस पायलट के द्वारा उन्हें बीएचयू वाराणसी तक पहुंचाया जाता है। इन्ही एंबुलेंस कर्मियों में कई एंबुलेंस कर्मी जिन्होंने बेहतर काम किया। उनके उत्साहवर्धन के लिए संतोष कुमार, कन्हैया लाल, उमेश कुमार को सम्मानित किया गया। उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में 108 एंबुलेंस की संख्या 37 और 102 एंबुलेंस की संख्या 42 है। जिनके माध्यम से जनवरी 2021 से अक्टूबर 2021 के मध्य करीब 75000 मरीजों को सेवा देने का काम किया गया है। इस अवसर पर जिला प्रोग्राम मैनेजर संदीप चौबे, अखंड प्रताप, गौरव सिंह और एंबुलेंस कर्मी भी मौजूद रहे।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.