सात दिन तक मनाया जाएगा दीवाली महोत्सव

सात दिन तक मनाया जाएगा दीवाली महोत्सव

गाजीपुर। प्रदेश सरकार दीवाली पर्व को उल्लासपूर्वक मनाए जाने के उद्देश्य से 28 अक्टूबर से लेकर चार नवंबर तक जनपद स्तर पर एक वृहद आयोजन करने जा रही है। इसमें दीवाली संबंधित सामान बेचने व स्ट्रीट वेंडरों सहित फूड स्टाल संचालकों के लिए एक प्लेटफार्म उपलब्ध कराया जाएगा। लोगों को आकर्षित करने के लिए वहां विभिन्न विभागों की ओर से संचालित योजनाओं के भी स्टाल लगाए जाऐंगे और सांस्कृति कार्यक्रम भी आयोजित होंगे। डीएम मंगला प्रसाद सिंह सोमवार की शाम कैंप कार्यालय पर अधिकारियों संग बैठक कर इसकी तैयारी करने का निर्देश दिए। इस मेला का आयोजन तीनों नगरपालिका गाजीपुर, मुहम्मदाबाद व जमानियां में किया जाएगा। इसके लिए सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिए कि मेला के आयोजन के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में पर्याप्त एवं समुचित स्थान का चयन करते हुए 20 अक्टूबर तक प्रत्येक दशा में इसकी सूची उपलब्ध करा दें। उन्होंने इस मेला में पटरी विक्रेताओं के लिए उपयुक्त स्थल चयन, फूड स्टाल, मनोरंजन के झूले, सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए मंच, दर्शकों के लिए पर्याप्त स्थान की सुविधा एवं पार्किंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।बैठक में मुख्य राजस्व अधिकारी सुशील लाल श्रीवास्तव, एसपी सिटी गोपी नाथ सोनी, सभी अधिशासी अधिकारी नगर पालिका एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

13 विभाग लगाएंगे स्टाल

कलेक्ट्रेट में मंगलवार को आयोजित प्रेसवार्ता में डीएम ने बताया कि दीपावली मेले में 13 विभागों द्वारा शासन की योजनाओ एवं उपलब्धियों से संबंधित स्टाल लगाया जाएगा। इसके अतिरिक्त रेहड़ी-पटरी के दुकानदारों की सुविधा के लिए लंका मैदान में ही सारी व्यवस्थाओं के साथ निश्शुल्क स्थान उपलब्ध जा रहा है। जिससे कि उनके आय में वृद्धि हो सके और कही भटकना न पड़े। दुकान लगाने के लिए उन्हें कतारबद्ध आठ बाई दस, या दस बाई बारह का स्थान उपलब्ध कराया जाएगा। बाहर पटिट्का लगाई जाएगी, जिस पर दुकान संख्या, दुकानदार का नाम और मोबाइल नंबर अंकित होगा। किस कतार में कौन दुकानदार है, उसका भी जिक्र होगा। यहां पर फायर सर्विस, स्ट्रीट लाइट के साथ ही लोगों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाएंगे, ताकि परिवार और बच्चों के साथ आए लोगों का मनोरंजन हो सकें। जिलाधिकारी ने कहा कि मेले में कोविड टीकाकरण की टीम भी लगाई जाएगी। इसमें सुबह नौ से रात नौ बजे तक प्रथम एवं द्वितीय डोज का टीकाकरण का कार्य किया जाएगा।

लंका मैदान में नहीं लगेगी पटाखे की दुकान

जिलाधिकारी ने बताया कि इस वर्ष पटाखे की दुकान लंका मैदान में न लगकर दूसरे स्थान पर लगेंगी। उन्हीं पटाखों की बिक्री होगी, जो सुप्रीम कोर्ट और प्रदेश सरकार की गाइड लाइन में है तथा जो पटाखे जीवन के लिए नुकसानदायक नहीं है, वही बिकेंगे।

adminpurvanchal

Leave a Reply

Your email address will not be published.