MLC चुनाव: सपा प्रत्याशी भोलानाथ सहित दो ने लिया नाम वापस…

MLC चुनाव: सपा प्रत्याशी भोलानाथ सहित दो ने लिया नाम वापस…

गाजीपुर। विधान परिषद सदस्य के चल रहे चुनाव प्रक्रिया के तहत बुधवार की दोपहर में एक नया मोड़ आ गया। अचानक भाजपा एमएलसी प्रत्याशी विशाल सिंह चंचल की गाड़ियों के काफिले के साथ कचहरी राइफल क्लब में आए समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी पंडित भोलानाथ शुक्ल ने अपना परचा वापस ले लिया। इसके बाद एमएलसी चंचल के पिता देवेन्द्र सिंह ने भी अपना परचा वापस ले लिया। यह सब करीब पांच मिनट में ही हो गया और फिर गाड़ियों का काफिला वापस चला गया। गाजीपुर में एमएलसी के एक पद के लिए भाजपा, सपा समेत कुल चार उम्मींदवारों ने नामांकन किया था। हालांकि नाम वापसी की अंतिम तारीख 24 मार्च है। अब भाजपा के विरोध में एक निर्दल प्रत्याशी मदन सिंह यादव चुनाव मैदान में हैं। अगर वह अपना परचा वापस नहीं लेते हैं तो गाजीपुर में भाजपा प्रत्याशी के निर्विरोध एमएलसी बनने का सपना धरा रह जाएगा। भाजपा की ओर से एमएलसी पद पर निर्विरोध चयन को लेकर पूरी ताकत झोंकी जा रही है। इसकी एक झलक आज देखने को मिली। उधर भोलानाथ शुक्ला के साथ ऐसा क्या हुआ कि उन्होंने अचानक अपना पर्चा वापस ले लिया इस पर कोई भी सपाई या बड़ा नेता कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। जिस तरह से नाटकीय अंदाज में उनकी नाम वापसी हुई है वह चर्चा का विषय बन गया है। करीब आधा दर्जन गाड़ियों के काफिले में अगली गाड़ी में विशाल सिंह चंचल बैठे हुए थे जबकि उसके पीछे चल रही गाड़ी में चंचल के पिता देवेंद्र सिंह तथा सपा उम्मींदवार भोलानाथ शुक्ल भी थे। काफिले के राइफल क्लब पहुंचने से पहले ही सीओ सिटी और बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स भी पहुंच गई थी। राइफल क्लब में इन गाड़ियों के घुसते ही सभी गेटों, यहां तक कि जिला निर्वाचन कार्यालय के भी दोनों गेटों को बंद कर दिया गया। आनन फानन में नाम वापसी के बाद ही गेट खुले और फिर गाड़ियों का काफिला वापस चला गया। इस दौरान भोलानाथ शुक्ल पहली ही गाड़ी में चंचल के साथ बैठे हुए थे। इधर मैदान में बच रहे एक निर्दल प्रत्याशी मदन सिंह यादव पर भी नाम वापसी का दबाव पड़ने लगा है। वह अधियरां गांव के प्रधान है। इसके पूर्व उनकी पत्नी रेनू देवी प्रधान थी। दोनों के प्रधानी कार्यकाल में हुए विकास एवं सरकारी कार्यों की जांच के लिए एक टीम मंगलवार की शाम को उनके घर धमक गई थी। इसे भी दबाव बनाने की एक कड़ी मानी जा रही है। सूत्रों के मुताबिक इसके बाद से मदन सिंह यादव कहीं भूमिगत हो गए हैं। अगर वह कल तक अपना पर्चा वापस ले लेते हैं, तब तो विशाल सिंह चंचल का एमएलसी पद पर निर्विरोध चयन हो जाएगा लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो अब उनका सीधा मुकाबला मदन यादव से होगा। जिलाधिकारी /जिला निर्वाचन अधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि दो प्रत्याशियों सपा के भोलानाथ शुक्ल तथा निर्दल देवेन्द्र ने आज अपना पर्चा वापस लिया है। अब दो प्रत्याशी मैदान में है। अगर एक प्रत्याशी पर्चा वापस ले लेता है तो दूसरा निर्विरोध चयनित हो जाएगा अन्यथा चुनाव की पूरी प्रक्रिया संपन्न कराई जाएगी।

adminpurvanchal