Ghazipur live news

चर्चा

क्या भाजपा को ले डूबेगा नगरपालिका का भ्रष्टाचार, बेदखली को लेकर नगरवासियों में हाहाकार

क्या भाजपा को ले डूबेगा नगरपालिका का भ्रष्टाचार, बेदखली को लेकर नगरवासियों में हाहाकार

गाजीपुर। पट्टे की जमीन पर फर्जी तरीके से पुराने कबीजो को निकाल भू माफियाओं को सौपना भारतीय जनता पार्टी को लोक सभा चुनाव में भारी नुक्सान पहुचा सकता है, जबकि विकास पुरुष के नाम से मशहूर हो चुके रेल राज्य मंत्री एवं संचार मंत्री तथा उनके समर्थक एक एक वोट के लिए जी जान लगा दिए है। ऐसे में नगर की जनता को उनके आशियानों से बेदखल करना चेयरमैन तथा भू माफियाओं को तो लाभ पहुचा सकता है पर पार्टी को भयंकर नुक्सान पहुचाने वाला है। सभी भुक्तभोगी नगरवासी प्रमुख समाजसेवी विवेक सिंह शम्मी के नेतृत्व में एसडीएम सदर को नगरपालिका द्वारा की जा रही मनमानी से अवगत कराया है। एसडीएम ने मामले की निष्पक्ष जांच का भरोसा दिया है। अपने ही बने जाल में फसे पूर्व चेयरमैन ज्ञात हो कि नगर के कपूरपुर एवं मिश्रबाजार पर भू माफियाओं की पहले से ही नजर थी। जिसे नगरपालिका चेयरमैन के माध्यम से गबन किया जाना था पर चुनाव आ जाने
भू-माफियाओं से मिलकर पट्टे की जमीन कब्जा कर रहे चेयरमैन, नगरवासियों ने दाखिल ख़ारिज में लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

भू-माफियाओं से मिलकर पट्टे की जमीन कब्जा कर रहे चेयरमैन, नगरवासियों ने दाखिल ख़ारिज में लगाया भ्रष्टाचार का आरोप

गाजीपुर। नगरपालिका परिषद की मिलीभगत से कपूरपुर और मिश्रबाजार क्षेत्र के जमीन व मकानों पर भू-माफियाओं की नजर है, जबकि काबिज दुकानदारो एवं निवासियों ने 99 वर्ष का पट्टा करा रखा था। जिसे नगरपालिका चेयरमैन ने भू माफियाओं की मिलीभगत से सभी नियमो को ताख पर रख पुराने नाम काटकर दूसरों के नाम करा भू माफियाओं को हस्तांतरित करने की योजना बना रखी है। ऐसा आरोप लगाते हुए नगरपालिका के पूर्व प्रत्याशी एवं प्रमुख सामजसेवी विवेक सिंह शम्मी के नेतृत्व में सैकड़ो युवाओ का एक प्रतिनिधि मंडल उपजिलाधिकारी शिवशरणप्पा से मिला। चेयरमैन का भू माफियाओं से है पुराना याराना प्रतिनिधिमंडल ने एसडीएम को अवगत कराया कि भू माफिया नगरपालिका चेयरमैन की मिलीभगत से इस क्षेत्र के करोड़ों की कीमती जमीन को कब्जा करना चाहते हैं। जिससे वर्तमान में काबिज दुकानदार व निवासी काफी भयभीत हैं। उन्होने उप जिलाधिकारी को बताया कि सभी मुहल्ल
गुजरात में भड़की हिंसा पर उग्र हुए बनारसी, बोले गुजराती मोदी बनारस छोड़ो

गुजरात में भड़की हिंसा पर उग्र हुए बनारसी, बोले गुजराती मोदी बनारस छोड़ो

वाराणसी। गुजरात में यूपी व बिहार के लोगों पर हो रहे हमले व पलायन की आग अब पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस तक पहुंच गयी है। काशी में जो लोग मोदी, मोदी कहते नहीं थकते थे, वे अब गुजरात में अपने भाईयों पर हो रहे अत्याचार और भाजपा नेताओ की चुप्पी पर मोदी बनारस छोड़ो की तख्तियां लिए पूरे शहर में घूम रहे है। यूपी बिहार एकता मंच की तरफ से लगाये गये इस पोस्टर में शहर में रह रहे गुजराती व मराठियों को एक सप्ताह के अंदर शहर छोडऩे की चेतावनी दी गयी है। बच्ची के रेप के बाद भड़की हिंसा ज्ञात हो कि गुजरात में एक बच्ची से रेप के बाद यूपी व बिहार के लोगों पर हमले बढ़ गये हैं। गुजरात में यूपी व बिहार के लोगों का पलायन शुरू हो गया है। साबरमती एक्सप्रेस से लोग तेजी से वापसी कर रहे हैं, जिसको लेकर बनारस में भी आक्रोश बढ़ता जा रहा है। इसको लेकर अब शहर में पोस्टरवार शुरू हो गया है। पीएम नरेन्द्र मोदी
लग रहे आरोपों से रो पड़े अल्पेश, बोले- “गुनहगार हूं तो जेल में डाल दें सरकार”

लग रहे आरोपों से रो पड़े अल्पेश, बोले- “गुनहगार हूं तो जेल में डाल दें सरकार”

नई दिल्ली। धमकी और मारपीट की घटनाओं से डर कर उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग लगातार गुजरात से पलायन कर रहे हैं। सत्तारूढ़ बीजेपी का आरोप है कि कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने राज्य में डर का माहौल पैदा किया है और यही वजह है कि गैर-गुजरातियों को निशाना बनाया जा रहा है। जबकि कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी के राज में कंपनियां बंद हो रही है, इसलिए मजदूरों को डराया जा रहा है और वो गुजरात छोड़ने को मजबूर हैं। रो पड़े अल्पेश हाल ही में बिहार कांग्रेस के प्रभारी बने अल्पेश ठाकोर ने कहा कि बीजेपी बदनाम कर रही है। यह कहते हुए ठाकोर रो पड़े। उन्होंने कहा कि अगर मैंने गलत किया है तो सरकार मुझे जेल में डाल दे लेकिन बदनाम न करे। बीजेपी का कहना है कि अल्पेश ठाकोर के संगठन 'गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना' ने बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को धमकाया और डर पैदा किया। आरोप साबित करो...इस्तीफा दे दूंगा मिडिया
शस्त्र लाइसेंस जारी करने पर लगी रोक हटी, अब ले सकेंगे अधिक कारतूस

शस्त्र लाइसेंस जारी करने पर लगी रोक हटी, अब ले सकेंगे अधिक कारतूस

गाजीपुर। प्रदेश सरकार ने नए शस्त्र लाइसेंस जारी करने पर लगी रोक हटा ली है। जिला मजिस्ट्रेटों को आयुध नियमावली 2016 के प्रावधानों के अनुसार नए शस्त्र लाइसेंस जारी करने के निर्देश दिए गए हैं। सचिव गृह भगवान स्वरूप की तरफ से इस संबंध में सोमवार को शासनादेश जारी कर दिया गया। इसमें हर्ष फायरिंग करने वाले शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने का प्रावधान भी किया गया है। शासन ने पहले से चली आ रही शस्त्र चलाने का टेस्ट लेने की व्यवस्था को भी समाप्त कर दिया है। अब शस्त्र लाइसेंस के आवेदकों को शस्त्र चलाने की ट्रेनिंग (खाली बंदूक से) का प्रमाणपत्र दिया जाएगा, न कि फायरिंग कराकर उनका टेस्ट लिया जाएगा। इन्हें मिलेगी वरीयता शासनादेश में कुछ श्रेणी के आवेदकों को वरीयता देने का प्रावधान किया गया है। इसमें अपराध पीड़ित, वरासतन, व्यापारी-उद्यमी, बैंक-संस्थागत-वित्तीय संस्थाएं, विभिन्न विभागों के प्रवर्तन कार्य मे
हत्यारोपी सिपाही के समर्थन में उतरे जिले के पुलिसकर्मी, फूले अधिकारियों के हाथ पाँव

हत्यारोपी सिपाही के समर्थन में उतरे जिले के पुलिसकर्मी, फूले अधिकारियों के हाथ पाँव

गाजीपुर। जनपद के दर्जन भर से अधिक पुलिस कर्मी लखनऊ में विवेक तिवारी काे गोली मारने वाले पुलिसकर्मी के समर्थन में आ गए है। पुलिसकर्मियों के काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करने की तस्‍वीर दिन भर जिले में वायरल होती रही मगर सबकी खबर लेने वाली पुलिस को अपने ही कर्मचारियों के विरोध की जानकारी ही नहीं। बता दे कि एपल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की लखनऊ में गोली मार कर हत्या करने के आरोपित सिपाही के समर्थन में शुक्रवार को स्थानीय जमानिया कोतवाली के एक उपनिरीक्षक, एक दीवान सहित 13 अन्‍य सिपाहियों ने बांह में काली पट्टी बांधकर कार्य किया। यह तस्‍वीर भी दोपहर से वायरल हो रही है, हालांकि पुलिस उच्चाधिकारी को इसकी कोई जानकारी नहीं है। स्‍थानीय पुलिसकर्मियों के ही मुताबिक बीते 29 सितंबर की रात राजधानी लखनऊ में हुई एपल के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की हत्या के मामले में आरोपीत सिपाही के समर्थ
मुकद्दमा दर्ज होने के बावजूद पुलिस नहीं कर रही दबंगो को गिरफ्तार, कोर्ट ने लगाई लताड़

मुकद्दमा दर्ज होने के बावजूद पुलिस नहीं कर रही दबंगो को गिरफ्तार, कोर्ट ने लगाई लताड़

गाजीपुर। लाख नसीहतों के बावजूद पुलिस महकमा सुधरने का नाम नहीं ले रहा। योगी राज में भी पुलिस पूर्व की तरह ही अपने मनमाने ठंग से काम कर रही है। उसे तो अब न्यायपालिका के आदेशों का भी कोई असर नहीं है। जी हा ऐसा ही एक मामला नंदगंज थाना अंतर्गत कुर्बान सराय गांव का है। पीड़िता द्वारा लाख जतन के बाद मुकद्दमा दर्ज हो जाने के बाद भी संगेय अपराध होते हुए भी न तो पुलिस अभियुक्तों को गिरफ्तारी ही कर रही है और न ही न्यायलय के आदेश के बावजूद त्वरित विवेचना। पीड़िता ने पुनः पुलिस अधीक्षक समेत न्यायालय में न्याय के लिए गुहार लगायी है। सिर की हड्डी टूटने पर भी पुलिस ने नहीं दर्ज किया अपराध नंदगंज थाना अंतर्गत कुर्बान सराय के रहने वाली पीड़िता शिला देवी का आरोप है कि भूमि विवाद को लेकर पट्टीदारों ने उसको तथा उसके घर वालो को लाठी डंडो से बुरी तरह से मारा पीटा जिससे उसके सिर में गंभीर चोटे आयी। हालत खराब हो
यूपी में पांच रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल और डीजल, डॉलर की कीमत 73.5 रुपये के पार

यूपी में पांच रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल और डीजल, डॉलर की कीमत 73.5 रुपये के पार

  लखनऊ। प्रदेश सरकार ने तेल के दामों के ऐतिहासिक ऊंचाई छूने से परेशान उपभोक्ताओं को आज राहत देते हुए पेट्रोल-डीजल की कीमतों में ढाई रुपये प्रति लीटर की कटौती की एलान किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कांफ्रेंस में केंद्र सरकार की ओर से पेट्रोल-डीजल के दाम में ढाई रुपये प्रति लीटर की कमी करने के निर्णय के बाद यह घोषणा की। इससे राज्य में पेट्रोल-डीजल की कीमतें कुल पांच रुपये प्रति लीटर घट जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार ने ईंधन की कीमतों में ढाई रुपये की कटौती का एलान किया है। लिहाजा उत्तर प्रदेश सरकार ने भी तेल के दामों में इतने ही रुपये की कमी का निर्णय लिया है। पिछले कई दिनों से यह मांग हो रही थी कि तेल के दाम में हो रही बढ़ोत्तरी में कमी लाने की दिशा में प्रयास किये जाने चाहिये। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। यहां खपत भी सबसे ज्यादा होती है। इ
करीबी ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने के लिए नगर पालिका चेयरमैन ने खत्म हो चुके काम का फिर से निकाला टेंडर

करीबी ठेकेदारों को फायदा पहुंचाने के लिए नगर पालिका चेयरमैन ने खत्म हो चुके काम का फिर से निकाला टेंडर

गाजीपुर। जिले में विकास के नाम पर बड़ा घोटाला सामने आया है। नगर पालिका अध्यक्ष पर आरोप है कि जो विकास कार्य पहले कराया जा चुका है उसको ही दोबारा कराने के लिए फिर से टेंडर निकाल दिया गया। इन लोगों का कहना है कि ऐसा सिर्फ अपने करीबी ठेकेदारों का फायदा पहुंचाने के लिए नगरपालिका चेयमैन के द्वारा ऐसा किया गया। भारी संख्या में जिलाधिकारी से मुलाकात करने पहुंचे सभासदों ने के जमानिया नगर पालिका परिषद चेयरमैन पर आरोप लगया कि जो काम पहले पूर्ण कर लिया गया है उसी काम को नगर पालिका अध्यक्ष के द्वारा अपने चहेते फर्म के माध्यम से टेंडर देकर लूट करने का काम किया जा रहा है । इस दौरान सभासदों ने कहा कि एहशान जफर नगर पालिका जमानिया के अध्यक्ष के द्वारा मनमाने तरीके से टेंडर प्रक्रिया करके लाखों रुपए का बंदरबांट किया जा रहा है इन सभासदों ने पूर्व में एक शिकायत पत्र दिया था। जिसमें इन लोगों का आरोप है कि ज
सत्ता के नशे में चूर भाजपा नेता ने व्यापारी को दी धमकी, व्यापारियों में आक्रोश

सत्ता के नशे में चूर भाजपा नेता ने व्यापारी को दी धमकी, व्यापारियों में आक्रोश

गाजीपुर। सत्ता के नशे में चूर भाजपा नेताओं को प्रशासन का कोई खौफ नहीं रह गया है, जबकि जनता ने सुशासन के नाम पर भाजपा को पूर्ण बहुमत में लाकर खड़ा कर दिया था वंही सपा और बसपा को बौना बना दिया। भाजपा की लहर में व्यापारियों ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया, व्यवसाय पर नोटबंदी और जीएसटी जैसे बड़े आघात को झेलते हुए भी व्यापारी भाजपा के लिए चुप रहे पर अब वही भाजपा नेताओं ने व्यापारियों का शोषण करना आरम्भ कर दिया है। ताजा मामला मोहम्दाबाद कोतवाली अंतर्गत अग्रवाल टोली निवासी प्रतिष्ठित व्यापारी पंकज मित्तल के साथ घटित हुआ, जिन्हे भाजपा नेता दिनेश वर्मा के छोटे भाई कुश वर्मा ने व्यावसायिक पर्तिस्पर्धा को लेकर फोन पर गंदी-गंदी गालियां देने के साथ ही जान से मारने की धमकी दे डाली है। वंही पंकज मित्तल ने मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की है, जिस पर पुलिस विभाग द्वारा कार्यवाई भी आरम्भ हो गयी है। मामले की