Ghazipur live news

विदेश

एयरपोर्ट पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को किया नंगा, चैनलों ने बताया शर्मनाक

एयरपोर्ट पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को किया नंगा, चैनलों ने बताया शर्मनाक


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वॉशिंगटन। अक्सर देखा गया है कि सुरक्षा कारणों की वजह से बड़ी से बड़ी हस्तियों को सिक्योरिटी के घेरे से गुजरना पड़ा है। सुरक्षा के लिहाज से कई सेलिब्रिटीज को परेशानियों का सामना करना पड़ा है, लेकिन अगर कहा जाए कि किसी देश के प्रधानमंत्री को भी सुरक्षा कारणों की वजह से एयरपोर्ट पर रोक लिया जाए तो ये बात हैरानी भरी होगी। जी हां, ऐसा ही कुछ हुआ है पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के साथ, जिन्हें अमरीका में एयरपोर्ट पर सुरक्षा जांच से गुजरना पड़ा। कहा जा रहा है कि एयरपोर्ट पर अमरीकी अधिकारियों ने पाकिस्तानी पीएम के कपड़े तक उतरवा लिए। अमरीकी एयरपोर्ट पर शाहिद खाकान अब्बासी के उतरवाए कपड़े पाकिस्तानी मीडिया में इस खबर को लेकर एक बहस छिड़ गई है और इसे पाकिस्तान का अपमान बताया है। इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें पाकिस्तान के पीएम शाहिद खाकान
जकरबर्ग ने दिलाया भरोसा- भारत में चुनाव से पहले सुरक्षा फीचर्स में बढ़ोत्‍तरी कर रहा है फेसबुक

जकरबर्ग ने दिलाया भरोसा- भारत में चुनाव से पहले सुरक्षा फीचर्स में बढ़ोत्‍तरी कर रहा है फेसबुक


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वांशिगटन। फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क जकरबर्ग ने कहा है कि भारत जैसे देशों में आगामी चुनावों की निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए फेसबुक अपने सुरक्षा सुविधाओं में इजाफा कर रहा है। उल्लेखनीय है कि डोनाल्ड ट्रंप के चुनावी अभियान से जुड़ी ब्रिटेन की कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका द्वारा फेसबुक उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत जानकारियों के दुरुपयोग मामले में फेसबुक की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। जकरबर्ग ने ”द न्यूयॉर्क टाइम्स” को दिए साक्षात्कार में कहा, “खबरों के साथ छेड़छाड़ की कोशिश और चुनावों को प्रभावित करने वाले फर्जी फेसबुक खातों की पहचान करने के लिए फेसबुक ने कृत्रिम मेधा(एआई) आधारित उपकरण तैनात किया है। इस तरह के उपकरण का प्रयोग पहली बार 2017 में फ्रांस चुनाव में किया गया था। उन्होंने कहा, “नए एआई उपकरण को हमने 2016 चुनावों के बाद बनाया और पाया कि 30,000 से अधिक फर्जी खाते हैं जो रूसी स
घर वालों के हवाले श्री देवी का पार्थिव शरीर, जल्द पहुचेंगा भारत

घर वालों के हवाले श्री देवी का पार्थिव शरीर, जल्द पहुचेंगा भारत


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
दुबई। दुबई पब्लिक प्रॉसिक्यूटर कार्यालय ने मंगलवार को बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत के मामले की जांच बंद कर दी। बताया गया कि दुबई में श्रीदेवी की मौत के मामले की जांच पूरी हो गई है। फॉरेंसिक रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्‍होंने कहा कि श्रीदेवी की मौत दुर्घटनावश बाथटब में डूबने से हुई। श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शनों के लिए सेलिब्रेशंस स्‍पोर्ट्स क्‍लब में सुबह 9:30 से 12:30 दोपहर बजे तक रखा जाएगा। उनका अंतिम संस्कार दोपहर 3:30 बजे के बाद विले पार्ले के सेवा समाज शमशान घाट में होगा। दुबई में सभी कागजी कार्यवाही पूरी होने के बाद श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को दुबई हवाई अड्डे से मुंबई के लिए रवाना कर दिया गया है। कुछ घंटों में श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंच जाएगा। खबर के मुताबिक, सरकारी वकील ने श्रीदेवी की मौत का केस बंद कर दिया है। लंबी पूछताछ के बाद बोनी कपूर
स्कूल में अंधाधुंध गोलीबारी, 17 की मौत, 14 घायल

स्कूल में अंधाधुंध गोलीबारी, 17 की मौत, 14 घायल


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
फ्लोरिडा। अमेरिका के फ्लोरिडा स्थित हाईस्कूल में एक पूर्व छात्र ने अचानक फायरिंग कर दी। इस हमले में 17 लोगों के मारे जाने की खबर है और 14 लोग घायल बताए जा रहे हैं। भारतीय समयानुसार घटना  देर रात हुई। स्थानीय पुलिस ने आरोपी छात्र को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस और आपातकालीन सेवाओं के कर्मी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं। घटना पार्कलैंड के मार्जरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल में हुई। यह शहर मियामी से 80 किलोमीटर उत्तर की ओर है। गोलीबारी के दौरान छात्र बुरी तरह डर गए थे और चीखने लगे थे। उन्होंने अपने दोस्तो और परिवार के लोगों को बचाने के लिए संदेश भेजे। आरोपी छात्र की पहचान 19 साल के निकोल्स क्रूज के रुप में की गई है। क्रूज इसी स्कूल में पढ़ता था। कुछ दिन पहले ही उसकी गलत आदतों और गलत व्यवहार के कारण उसे स्कूल से निकाल दिया गया था जिसके बाद से वह गुस्सा में था। आरोपी छात्र के पास स्कूल से संबंधित सभ
मालदीव में 2 भारतीय पत्रकार गिरफ्तार, सुषमा स्वराज से हस्तक्षेप की गुहार

मालदीव में 2 भारतीय पत्रकार गिरफ्तार, सुषमा स्वराज से हस्तक्षेप की गुहार


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मालदीव। दो भारतीय रिपोर्टरों को गिरफ्तार किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार किए रिपोर्टर समाचार एजेंसी एएफपी के बताए जा रहे हैं। यह मामला ऐसे समय सामने आया है जब मालदीव की मौजूदा सरकार और न्यायपालिका को लेकर संघर्ष चल रहा है। राष्ट्रपति अबदुल्ला यामीन ने मालदीव में आपातकाल लगा दिया है। सूत्रों के मुताबिक समाचार एजेंसी एएनआई को बताया  गया है कि मालदीव में एएफपी के लिए काम कर रहे दो भारतीय पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। पत्रकारों को किस जुर्म में गिरफ्तार किया गया है, यह अभी पता नहीं चल पाया है। बता दें कि मालदीव में आपातकाल के चलते किसी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को किसी तरह के वारंट की जरूरत नहीं है। इस मामले की जानकारी लगते ही लोगों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर के जरिये उनसे हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई है। मालदीव के मौजूदा हालातों क
सेना को लेकर गलत ट्वीट करने पर फंसीं बीबीसी की संपादक, पासपोर्ट जब्त कर ‘देश’ छोड़ने को कहा

सेना को लेकर गलत ट्वीट करने पर फंसीं बीबीसी की संपादक, पासपोर्ट जब्त कर ‘देश’ छोड़ने को कहा


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
इंडोनेशिया। कुपोषण से जूझ रहे पापुआ प्रांत में इंडोनेशियाई सेना की मदद मुहिम को लेकर कथित आपत्तिजनक ट्वीट करने के मामले में बीबीसी की इंडोनेशिया संपादक रेबेका एलिस हेंसक फंस गई। इंडोनेशिया की सरकार ने उनका पासपोर्ट जब्त करने के साथ पापुआ प्रांत को छोड़ने का हुक्म जारी किया है। रेबेका कुपोषण फैलने पर पापुआ में न्यूज कवरेज के मिशन पर थीं। संपादक को फॉरेन वॉच टीम की निगरानी में रखा गया है।  हुआ दरअसल यूं कि एक फरवरी को रेबेका ने कुछ ट्वीट किए, जिसमें पापुआ में इंडोनेशियाई सरकार की ओर से कुपोषण प्रभावित परिवारों की मदद को लेकर आलोचना की थी। उन्होंने राहत सामग्री  की तस्वीर के साथ ट्वीट करते हुए कहा था कि-“मदद के नाम पर सिर्फ नूडल्स, मिठाई, शीतलपेय और बिस्कुट ही शामिल हैं। इस ट्वीट को इंडोनेशियाई सेना ने गंभीरता से लिया और बयान जारी कर इसे जवानों की भावना को ठेंस पहुंचाने वाला बताया।” साथ ही
दिवालियापन की कगार पर अमरीका, संकट से पार पाने में जुटी ट्रंप सरकार

दिवालियापन की कगार पर अमरीका, संकट से पार पाने में जुटी ट्रंप सरकार


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वाशिंगटन। अमरीका पर एक बार फिर से संकट के बादल मंडराने लगे हैं। दिवालिया होने की कगार पर खड़ा अमरीका इस संकट से निकलने को छटपटा रहा है। हालांकि वहां की सरकार इस शटडाउन से निपटने का हर संभव प्रयास कर रही है। यही कारण है कि अमरीकी कांग्रेस के निचले सदन की प्रतिनिधि सभा ने संघीय सरकार को आर्थिक मंजूरी प्रदान करने वाले विधेयक को पारित कर दिया है। जबकि ऊपरी सदन सीनेट में भी पास कराए जाने के प्रयास जारी हैं। बता दें कि यदि यह विधेयक सीनेट से पास नहीं हो पाता तो आर्थिक मंजूरी की कमी के चलते देश में सरकारी कामकाज ठप हो जाएगा। सीनेट में अटक सकता है विधेयक दरअसल, अमरीका में सत्ताधारी रिपब्लिकन पार्टी के बहुमत वाली प्रतिनिधि सभा ने इस विधेयक को हरी झंडी दे दी है। जबकि सीनेट में यह विधेयक मुश्किलों में घिरा है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि सीनेट में सत्तारूढ़ दल को डेमोक्रेट पार्टी के समर्थन की जर
अलमारी में बंद मिला चार साल का मासूम, दिया जाता था ड्रग्स, चूहों-कॉकरोचों को बना रखा था दोस्त

अलमारी में बंद मिला चार साल का मासूम, दिया जाता था ड्रग्स, चूहों-कॉकरोचों को बना रखा था दोस्त


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वाशिंगटन। अमेरिका के हाउसटन इलाके में चार साल का एक मासूम अलमारी के भीतर बंद मिला है। अधिकारियों ने इस बाबत दावा किया है कि वह काफी दिनों तक अलमारी में ही रहा। उसे इस दौरान ड्रग्स दिया जाता था। जांच में यह भी पता लगा कि बच्चे ने चूहों और कॉकरोचों को अपना दोस्त बना रखा था। हालांकि, पुलिस ने इस मामले में उसकी मां को गिरफ्तार किया है। मंगलवार को हैरिस काउंटी जज ने इस मामले में बच्चे को बाल कल्याण अधिकारियों को उसे अपने पास अस्थाई तौर पर हिरासत में रखने के लिए कहा है। जबकि मामले की जांच अभी भी की जा रही है। जांचकर्ता अभी भी पता नहीं लगा सके हैं कि बच्चा कितने समय से घर में था। गड़बड़ होने के शक पर 20 दिसंबर को इस बाबत सर्च वॉरंट जारी हुआ था। अटॉर्नी रेचल लियल-हडसन ने हाउसटन टीवी स्टेशन केटीआरके को बताया कि बच्चे ने जांचकर्ताओं से कहा था कि एक समय तो ऐसा था, जब उसे कई घंटों तक के लिए अलमारी स
आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका का दोहरा चरित्र, आतंकियों की लिस्ट से हाफिज सईद का नाम गायब

आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका का दोहरा चरित्र, आतंकियों की लिस्ट से हाफिज सईद का नाम गायब


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
नई दिल्ली। आतंकवाद के मुद्दे पर अमरीका का दोहरा रूप देखने को मिला है। दरअसल, अमरीका के द्वारा पाकिस्तान को सौंपी गई 75 आतंकियों की लिस्ट में जमात-उद-दावा का चीफ और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद का नाम नहीं है। हैरानी वाली बात ये है कि कई बार अमरीका ही हाफिज सईद को लेकर सख्त रूख अपनाते हुए दिखा है, लेकिन पाकिस्तान को सौंपी गई लिस्ट में उसका नाम नहीं है। इस बात की जानकारी पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने बुधवार को दी। आपको बता दें कि आतंकी गतिविधि में भूमिका के लिए जमात-उद-दावा के प्रमुख पर एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित है। जनवरी 2017 से हाफिज सईद को पाकिस्तान में नजरबंद कर रखा गया है। संसद में दी ख्वाजा आसिफ ने जानकारी बुधवार को पाकिस्तानी संसद में ख्वाजा आसिफ ने बताया कि अमरीका ने हमें 75 आतंकियों की लिस्ट दी है, जबकि हमने अमरीका को 100 आतंकियों की लिस्ट दी है। इन दोनो
भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का किया आह्वान

भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का किया आह्वान


Warning: printf(): Too few arguments in /home/liveghazipur/public_html/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वाशिंगटन। लास वेगास में फायरिंग की घटना के बाद अमेरिका में बंदूक संस्कृति पर नियंत्रण को लेकर बहस तेज हो गई है। भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने अमेरिकी बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का आह्वान किया है। अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा में बोलते हुए महिला डेमोक्रेट सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा कि बंदूक हिंसा सार्वजनिक स्वास्थ्य का संकट है जो अब तक हजारों निर्दोष लोगों की जान ले चुका है। इस समस्या के समाधान के लिए संसद को हरसंभव प्रयास करना चाहिए। अमेरिकी जनता इससे परेशान है, लेकिन बंदूकों के पक्षधर जनता की बजाय अपने लाभ को वरीयता दे रहे हैं। हथियार रखने का अधिकार देने वाले देश के संस्थापकों का इरादा कतई ऐसा नहीं था। उन्होंने कहा, 'अधिकारों के साथ जिम्मेदारियां भी जुड़ी होती हैं। हमारी जिम्मेदारी है कि बंदूक बिक्री से जुड़े कानूनों की खामियों को खत्म करें। ऐसे कानून बनाएं जिससे बच्चे और गंभीर मान