Ghazipur live news

विदेश

आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका का दोहरा चरित्र, आतंकियों की लिस्ट से हाफिज सईद का नाम गायब

आतंकवाद के मुद्दे पर अमेरिका का दोहरा चरित्र, आतंकियों की लिस्ट से हाफिज सईद का नाम गायब

नई दिल्ली। आतंकवाद के मुद्दे पर अमरीका का दोहरा रूप देखने को मिला है। दरअसल, अमरीका के द्वारा पाकिस्तान को सौंपी गई 75 आतंकियों की लिस्ट में जमात-उद-दावा का चीफ और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद का नाम नहीं है। हैरानी वाली बात ये है कि कई बार अमरीका ही हाफिज सईद को लेकर सख्त रूख अपनाते हुए दिखा है, लेकिन पाकिस्तान को सौंपी गई लिस्ट में उसका नाम नहीं है। इस बात की जानकारी पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने बुधवार को दी। आपको बता दें कि आतंकी गतिविधि में भूमिका के लिए जमात-उद-दावा के प्रमुख पर एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित है। जनवरी 2017 से हाफिज सईद को पाकिस्तान में नजरबंद कर रखा गया है। संसद में दी ख्वाजा आसिफ ने जानकारी बुधवार को पाकिस्तानी संसद में ख्वाजा आसिफ ने बताया कि अमरीका ने हमें 75 आतंकियों की लिस्ट दी है, जबकि हमने अमरीका को 100 आतंकियों की लिस्ट दी है। इन दोनो
भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का किया आह्वान

भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का किया आह्वान

वाशिंगटन। लास वेगास में फायरिंग की घटना के बाद अमेरिका में बंदूक संस्कृति पर नियंत्रण को लेकर बहस तेज हो गई है। भारतीय-अमेरिकी सांसदों ने अमेरिकी बंदूक नियंत्रण कानूनों में बदलाव का आह्वान किया है। अमेरिकी संसद की प्रतिनिधि सभा में बोलते हुए महिला डेमोक्रेट सांसद प्रमिला जयपाल ने कहा कि बंदूक हिंसा सार्वजनिक स्वास्थ्य का संकट है जो अब तक हजारों निर्दोष लोगों की जान ले चुका है। इस समस्या के समाधान के लिए संसद को हरसंभव प्रयास करना चाहिए। अमेरिकी जनता इससे परेशान है, लेकिन बंदूकों के पक्षधर जनता की बजाय अपने लाभ को वरीयता दे रहे हैं। हथियार रखने का अधिकार देने वाले देश के संस्थापकों का इरादा कतई ऐसा नहीं था। उन्होंने कहा, 'अधिकारों के साथ जिम्मेदारियां भी जुड़ी होती हैं। हमारी जिम्मेदारी है कि बंदूक बिक्री से जुड़े कानूनों की खामियों को खत्म करें। ऐसे कानून बनाएं जिससे बच्चे और गंभीर मान
रूस ने सीरिया में की ताबड़तोड़ बमबारी, 200 से ज्यादा ISIS आतंकी मरे

रूस ने सीरिया में की ताबड़तोड़ बमबारी, 200 से ज्यादा ISIS आतंकी मरे

मास्को। सीरिया के डेर अल जोर में रूस की ओर से किए गए हवाई हमले में 200 से अधिक इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादी मारे गए हैं। रूस के रक्षा मंत्रालय ने आज कहा कि रूस की वायु सेना की ओर से किए हवाई हमले में आईएस को रक्का और होम्स प्रांत से पीछे हटने पर मजबूर कर दिया गया। उन्होंने कहा कि इस हमले में आतंकवादियों के हथियारों को भी नष्ट किया गया। रूस की एयरफोर्स ने आईएस के ठिकानों पर ताबड़तोड़ हवाई हमले किए, जिससे आतंकियों को भागने का भी मौका नहीं मिला।
आठ बेगमों के साथ इलाज के लिए ग्रेटर नोएडा पहुंचे कुवैत के सुल्तान

आठ बेगमों के साथ इलाज के लिए ग्रेटर नोएडा पहुंचे कुवैत के सुल्तान

नोएडा। इलाज के बाबत कुवैत के सुल्तान शेख शबा अल अहमद अमीर ग्रेटर नोएडा के जेपी हॉस्पिटल में भर्ती हुए हैं। कई बीमारियों से पीड़ित अमीर के साथ उनका पूरा परिवार उनके साथ भारत आया है। परिवार में उनकी 8 बेगमें और परिवार के अन्‍य 28 सदस्य भी हैं। वह कुवैत के राष्ट्रप्रमुख भी हैं। कुवैत के सुल्तान जेपी रेजॉर्ट में रुके हुए हैं। उनका इलाज ग्रेटर नोएडा के जेपी हॉस्पिटल में चल रहा है। रेजॉर्ट से अस्पताल तक करीब 9 किलोमीटर का सफर अमीर का परिवार हेलिकॉप्टर से तय करता है। उनकी फैमिली के लिए अस्पताल के तीन सुइट का इन्टीरीअर चेंज कर इसे शाही लुक भी दिया गया है। सोमवार को ग्रेटर नोएडा पहुंचे अमीर शुक्रवार को कुवैत के लिए रवाना हो जाएंगे। अस्पताल में 20 डॉक्टरों की टीम अमीर और उनके परिवार का इलाज कर रही है। डॉक्टरों की टीम की अगुआई सर्जन और जेपी हेल्थकेयर के सीईओ डॉक्टर मनोज लूथरा कर रहे हैं। टीम
सऊदी के प्रिंस ने पाकिस्तान को बताया ‘गुलाम’

सऊदी के प्रिंस ने पाकिस्तान को बताया ‘गुलाम’

नई दिल्‍ली। दुनियाभर में पाकिस्‍तान की लगातार किरकिरी हो रही है। कभी भारत को लेकर वह हंसी का पात्र बन जाता है तो कभी अपने ही मंत्रियों के बयान को लेकर उसको शर्मसार होना पड़ता है। कतर और सऊदी अरब के बीच मध्‍यस्‍थता को लेकर भी उसका कुछ ऐसा ही हाल हुआ जब सऊदी किंग ने नवाज से पूछा कि वह किस तरफ हैं। इस तरह के कई और उदाहरण पाकिस्‍तान को लेकर मिल जाएंगे। लेकिन अब जिस चीज को लेकर पाकिस्‍तान की किरकिरी हो रही है वह इन सभी से कहीं ज्‍यादा बड़ी है। दरअसल, सऊदी अरब के रक्षा मंत्री और प्रिंस मोहम्‍मद बिन सुलेमान ने पाकिस्‍तान के बारे में कुछ ऐसा कह दिया है जिसको पाकिस्‍तान कभी हजम नहीं कर सकेगा। प्रिंस सुलेमान ने एक विवादस्‍पद बयान देते हुए पाकिस्‍तान को अरब का गुलाम कहा है। उनका मानना है कि सही मायने में मोहम्‍मद साहब के असली वंशज उन्‍हीं के देशवासी हैं। वह पाकिस्‍तान को इस्‍लामी देश भी नहीं मानते
फेसबुक पर की खुदा की तौहीन, अदालत ने सुनाई सजा-ए-मौत

फेसबुक पर की खुदा की तौहीन, अदालत ने सुनाई सजा-ए-मौत

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में फेसबुक पर ईशनिंदा करने के मामले में पहली बार किसी शख्स को मौत की सजा दी जाएगी। 30 साल के तैमूर रजा को ईशनिंदा के मामले में फांसी की सजा दी गई है। रजा को फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद को लेकर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर यह सजा सुनाई गई है। पाकिस्तान की ऐंटी-टेररिज्म कोर्ट ने यह सजा सुनाई है। तैमूर रजा को आतंक निरोधी विभाग ने बीते साल बहवालपुर से गिरफ्तार किया था। खबरों के मुताबिक तैमूर ने कथित रूप से सुन्नी समुदाय के धर्मगुरुओं और पैगंबर मोहम्मद को लेकर फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। बता दें पाकिस्तान में ईशनिंदा के मामलों को लेकर कड़े कानून हैं। रजा पर सावर्जनिक जगहों पर आपत्तिजनक और हेट स्पीच देने के भी आरोप थे। उनके खिलाफ मुल्तान पुलिस स्टेशन में आतंक निरोधी ऐक्ट के सेक्शन 295-सी (पैगबंर के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी) और सेक्शन 9 और सेक्शन 11 के तहत मामले दर्ज
खेलों के लाइव प्रसारण के लिए फेसबुक का ईएसएल से करार

खेलों के लाइव प्रसारण के लिए फेसबुक का ईएसएल से करार

न्यूयॉर्क। जब बात खेलों के लाइव स्ट्रीमिंग की आती है तो ट्विटर या फिर अमेजन के टि्वच का नाम सामने आता है। अब फेसबुक ने वैश्विक खेल कंपनी ईएसएल के साथ भागीदारी की है, जिसके तहत कंपनी के 5,550 घंटों की मौलिक सामग्री और वीडियो फेसबुक के प्लेटफार्म पर देखे जा सकेंगे। इससे पहले फेसबुक ने मेजर लीग बेसबॉल (एमएलबी) के साथ इस हफ्ते की शुरुआत में 20 नियमित सीजन गेम्स के अपने सोशल नेटवर्क पर प्रसारण के लिए भागीदारी की थी। अमेजन और ट्विटर ने खरीद रखे हैं कई कंपनियों से प्रसारण अधिकार प्रौद्योगिकी वेबसाइट टेकक्रंच डॉट कॉम ने शनिवार की रिपोर्ट में कहा कि इस कदम से फेसबुक को अमेजन के ट्विच के साथ ही ट्विटर को भी चुनौती देने में मदद मिलेगी। इन दोनों ने लाइव स्ट्रीमिंग के क्षेत्र में खेलों के प्रसारण के लिए कई कंपनियों से अधिकार खरीद रखे हैं। टि्वटर पहले ही कर चुका है करार टि्वटर ने मार्च में ई
अब कोलंबो और वाराणसी के बीच सीधी हवाई सेवा

अब कोलंबो और वाराणसी के बीच सीधी हवाई सेवा

वाराणसी। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को एक और तोहफा दिया है। नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका दौरे के दौरान कोलंबो से वाराणसी की सीधी हवाई सेवा शुरू करने का ऐलान किया है। अगस्त से वाराणसी और कोलंबो के बीच एयर इंडिया की सीधी हवाई सेवा की शुरूआत होगी। पीएम मोदी की इस पहल से भारत में बौद्ध से जुड़ा एक और स्थल से श्रीलंका के लोग जुड़ जाएंगे। पीएम मोदी बौद्ध धर्म के सबसे बड़े त्योहार बेसाक डे के अवसर पर शुक्रवार को श्रीलंका में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। मोदी ने इस दौरान कहा कि भारत बुद्ध की धरती है और बुद्ध के समय से ही भारत- श्रीलंका के बीच दोस्ती की शुरूआत हुई थी। बता दें कि पीएम मोदी की इस घोषणा से श्रीलंका में रह रहे तमिल लोगों को भी फायदा होगा। हर साल काफी संख्या में तमिल काशी विश्वनाथ मंदिर आते हैं। अब सीधी फ्लाइट सेवा शुरू होने से उन्हें काफी सहूलियत होगी।
सौ दिन पूरे होने पर विशाल रैली करेंगे डोनाल्ड ट्रंप

सौ दिन पूरे होने पर विशाल रैली करेंगे डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह 29 अप्रैल को राष्ट्रपति के तौर पर अपने 100 दिन पूरे होने के मौके पर पेनस्लिवेनिया में एक विशाल रैली आयोजित करेंगे। ट्रंप ने एक ट्वीट कर कहा कि मैं अगले शनिवार की रात मैं पेनसिल्वेनिया में एक विशाल रैली करूंगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक, रैली व्हाइट हाउस के संवाददाताओं के वार्षिक रात्रि भोज वाले दिन ही आयोजित की जाएगी। हालांकि, राष्ट्रपति ने भोज में शामिल होने से इनकार कर दिया है। 100 दिनों के मानक पर एक दिन पहले किया था ट्वीट यह घोषणा ट्रंप द्वारा किसी नए प्रशासन के 100 दिन पूरे होने पर उसकी उपलब्धियों का आकलन करने के ‘मानक’ के बारे में ट्वीट करने के एक दिन बाद आई है। 100 दिनों का यह मानक राष्ट्रपति फ्रेंकलिन रूसेवेल्ट से जुड़ा है, जिन्होंने अपने राष्ट्रपति काल में 15 प्रमुख विधेयकों पर हस्ताक्षर किए थे। माना जाता है कि 100 दि
जाधव को फांसी दी तो भारत से तनाव बढ़ेगा, पाक मिडिया ने चेताया

जाधव को फांसी दी तो भारत से तनाव बढ़ेगा, पाक मिडिया ने चेताया

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के आर्मी कोर्ट ने भारत के पूर्व नेवी अफसर कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई है। पाकिस्तानी मीडिया ने इसे 'पहले कभी न होने वाली घटना' करार दिया है। वहां के अखबारों ने पाक एक्सपर्ट्स के हवाले से नवाज शरीफ सरकार को आगाह किया है। यह कहा गया कि अगर जाधव को फांसी दी गई तो इससे दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ेगा। साथ ही इसके गंभीर नतीजे होंगे, इसके लिए हमें तैयार रहना होगा। वहीं, इंटरनेशल लेवल पर भी इसे लेकर रिएक्शन देखने को मिल सकती है। कुछ पाकिस्तानी जर्नलिस्ट ने जाधव के खिलाफ जुटाए गए सबूतों को पब्लिक किए जाने की भी मांग की। 'द नेशन' ने मंगलवार को अपने पहले पेज पर 'जासूस की मौत से तनाव बढ़ेगा' हेडिंग से खबर छापी। अखबार ने पॉलिटिकल और डिफेंस एनालिस्ट डॉ. हसन असकरी के बयान को भी छापा है। उन्होंने कहा- "जाधव की मौत के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ेगा। पाकिस्तानी कानून